Fake Pictures of Fatehveer circulated by Media

फतेहवीर की जो वीडियो और तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं, वे फर्जी हैं। बच्चे के पिता का कहना है कि वे अब चैनल वालों पर मानहानि का केस करेंगे। मंगलवार को जहां संगरूर के गांव भगवानपुरा में दो साल के फतेहवीर की मौत से लोगों की आंखें नम थीं, वहीं सोशल मीडिया पर किसी दूसरे फतेहवीर की वीडियो वायरल हो गई। यह लोहड़ी का जश्न मनाने की वीडियो थी, जो जीरकपुर के ढकोली क्षेत्र में ममता एनक्लेव निवासी दलबीर सिंह पाल के बेटे फतेहवीर सिंह पाल की है।
मृतक बच्चे के तौर पर फतेहवीर की वीडियो वायरल होने पर परिवार में सोशल मीडिया समेत कुछ नामी टीवी चैनलों के खिलाफभारी रोष है। अमर उजाला से बातचीत करते हुए दलबीर पाल सिंह ने बताया कि जो वीडियो टीवी चैनलों पर चलाया जा रहा और सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, वह उनके बेटे फतेहवीर सिंह पाल की पहली लोहड़ी की है। रिश्तेदारों समेत दोस्तों से पता चला कि उनके बेटे की वीडियो भगवानपुर के बोरवेल में गिरकर जान गंवाने वाले बच्चे के तौर पर पेश की जा रही है तो उन्हें बहुत ठेस पहुंची।दलबीर सिंह पाल ने बताया कि किसी शरारती तत्व ने असली फतेहवीर की पुष्टि किए बिना उसकी निजी फेसबुक आईडी से वीडियो उठा कर वायरल कर दी, जबकि मृतक फतेहवीर का इस वीडियो के साथ कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि फतेहवीर की मौत का उन्हें भी बहुत दुख है, परंतु उनके बेटे की वीडियो मृतक बच्चे के तौर पर पेश की जा रही है, जिसका उन्हें बहुत दुख पहुंचा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.